बिहार में सबसे कम 2 रूपये किलो टमाटर, उत्पादक किसान हुए बर्बाद, मुआवजा मिले अन्यथा सडक पर टमाटर फेकेंगे किसान -ब्रहमदेव

TelegramWhatsAppTwitterFacebookGoogle Bookmarks

..

देखिये बिहार के दूर्दशा सब्जियों हाल 1₹,2₹.

*महंगाई तो सब झेला है सस्ता सिर्फ किसानों ने*

बिहार के कुछ जिले में प्रखंड ताजपुर प्रखंड क्षेत्र एवं आसपास के टमाटर उत्पादक किसान बर्बादी के कागार पर है।उच्च क्वालिटी का चमकता टमाटर मोतीपुर सब्जी मंडी में ₹2रुपये किलो किसानों को बेचना पड रहा है।उसमें भी ₹1रूपये प्रति किलो गद्दी खर्च एवं बाकी बचे एक रुपये भाडा ए्वं मजदूरी में समाप्त हो जाता है।परिणाम है कि किसान का टमाटर भी बिक जाता है और खाली हाथ धर भी लौटना पडता है ၊            जबकि बिचडा जमाने से लेकर फसल तैयार होने तक किसानों को बडा लागत लगाना पडता है।इस संबंध में गद्दीदार दशरथ सिंह, भाग्यनारायण साह, राजाराम महतो, कमलेश कुमार त्रृषिदेव आदि ने बताया कि अधिक मात्रा में गद्दी में टमाटर आने एवं व्यापारी सिमित रहने के कारण ये हाल है।कच्चा सौदा होने के कारण बाहर भेजना भी महँगा एवं कठिन है।
मंडी में उपस्थित किसान नेता ब्रहमदेव प्रसाद सिंह एवं भाकपा माले प्रखंड सचिव सह इनौस जिला अध्यक्ष सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि टमाटर उत्पादक किसान के समक्ष भूखमरी की स्थिति है।उनका पूँजी बर्बाद हो गया है।ऐसे में प्रशासन एवं सरकारी अनुदान दिया जाए अन्यथा किसान टमाटर के साथ सडक पर उतरकर विरोध जताएगा।

TelegramWhatsAppTwitterFacebookGoogle Bookmarks
Translate »