http://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js माओवादियों का साउथ एशिया प्रवक्ता अभय नायक दिल्ली हवाई अड्डे से गिरफ्तार – INDIA NEWS LIVE
Home / Country / माओवादियों का साउथ एशिया प्रवक्ता अभय नायक दिल्ली हवाई अड्डे से गिरफ्तार

माओवादियों का साउथ एशिया प्रवक्ता अभय नायक दिल्ली हवाई अड्डे से गिरफ्तार

अभय नायक विगत डेढ़ वर्षों से छत्तीसगढ़ पुलिस के राडार पर था। यह माओवादी संगठन सीपीआई माओइस्ट का साउथ एशिया प्रवक्ता था। 6 जून को दिल्ली से गिरफ्तार रोना विलसन और नागपुर की अँग्रेजी की प्रोफेसर सोमा सेन का बहुत करीबी था यह अभय नायक। यह सोसल मीडिया के माध्यम से माओवादियों के लिए प्रोपेगेंडा का सफल संचालन करता था। यह लेख भी लिखता था। और प्रोपेगेंडा के लिए ब्लॉग भी लिखता था। प्रेस रिलीज भी प्रसारित करता था नियमित रुप से।

इसका नाम 2017 में वस्तर पुलिस को तब पता चला जब वस्तर के दर्भा क्षेत्र में कुछ विस्फोटक (IED) के साथ कुछ माओवादी साहित्य और पम्पलेट जब्त हुए। उन सामग्रियों से पता चला कि अभय नायक इनका प्रवक्ता है। इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस बस्तर रेंज ने कहा कि अभय ऑनलाइन सामग्रियों, प्रेस रिलीज और अपने लेखों के माध्यम से नैजवानों को माओवाद में लाता है। अभय अपने प्रोपेगेंडा के बलपर माओवाद में नौजवानों की भर्ती का काम करता है।

अभय नायक को लोड्डा के नाम से भी जाना जाता है। छत्तीसगढ़ में एंटी नक्सल ऑपरेशन के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस डीएम अवस्थी के अनुसार इसके विरुद्ध लुक आउट नोटिस 2017 में ही जारी कर दिया गया था। किंतु अभी 1 जून को यह दिल्ली हवाई अड्डे पर पकड़ा गया।

अभय विगत वर्ष में 15 देशों की यात्रा करके आया है। उन देशों में यह धन और समर्थन जुटाने के लिए जाता रहता था।अभय बेल्जियम, फ्रांस, यूके, मेक्सिको, इक्वेडोर, बोलिविया, कंबोडिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया, रसिया और नेपाल इत्यादि देशों की यात्रा पर गया था। इसके पास से लैपटॉप, पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क एवं माओवादी साहित्य जब्त किया गया है। प्राप्त सामग्रियों से पता चलता है कि इसके भारत और दुनिया भर के माओवादी नेताओं और माओवाद से सहानुभूति रखने वाले लोगों से संम्बंध हैं। इसके पास से बहुत साक्ष्य प्राप्त हुए हैं जिसके आधार पर भविष्य में अनेक गिरफ्तारियां संभव हैं।

2008 में अभय ने इंडिया माइक्रो फिनांस कंपनी के नाम से एक कंपनी भी शुरू किया था। और इसी कंपनी के नाम से ब्लॉग भी चलाता था। अभय की कंपनी में बहुत बड़ी मात्रा में पैसे का ट्रांजेक्शन हुआ है। पुलिस इस बात का जाँच कर रही है कि किन किन लोगों द्वारा और किन किन देशों से इसको धन प्राप्त हुआ है। यह माओवादी कोऑर्डिनेशन कमिटी (MCC) और संबंधित संगठनों का साउथ एशिया का काम देखता था। यह अर्बन माओइस्ट नेटवर्क का बहुत मजबूत लिंक था।

FacebookTwitterGoogle+WhatsApp

About Admin

x

Check Also

पूरा शहर स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई के श्रद्धांजलि कार्यक्रम से हुआ गमगीन

। ब्यूरो रिपोर्टर सुमित कुमार पूरा बेतिया शहर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल ...

Translate »
Powered by shf network private limited