‘सात निश्चय’ कार्यक्रम की गुणवत्ता जाँच हेतु प्रधान सचिव द्वारा सभी डी0एम0 को निदेश-India News Live

Share

पटना। पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव श्री अमृत लाल मीणा ने बिहार के सभी जिला पदाधिकारियों को निष्चय योजनाओं के सैंपल्स की जाँच कराने के संबंध में पत्र लिखा है। निर्गत किए गये पत्र से सभी जिलाधिकारियों को निर्देषित किया गया है कि सात निष्चय योजना के अंतर्गत पंचायती राज विभाग द्वारा दो योजनाएँ क्रमषः मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निष्चय योजना एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण गली-नाली पक्कीकरण निष्चय योजना के प्रयोग की जाने वाली सामग्रियों के गुणवत्ता की जाँच इन योजनाओं के सफल एवं गुणवत्तापूर्ण क्रियान्वयन के लिए अतिआवष्यक है। गौरतलब है कि विभाग अंतर्गत सामग्रियों के सैंपल टेस्टिंग की अपनी प्रयोगषाला नहीं है। इस कारण पथ निर्माण विभाग, ग्रामीण कार्य विभाग एवं लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के सचिवों/प्रधान सचिवों को उनके प्रयोगषाला से सैंपल की निःषुल्क जाँच हेतु सुविधा उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया है जिसकी प्रतिलिपि सभी जिलाधिकारियों को प्रेषित है। उल्लेखनीय है कि गली-नाली पक्कीकरण में बन रहे पी0सी0सी0 रोड, प्रयुक्त हो रहे पेवर (च्।टम्त्) ब्लाॅक्स, ब्रिक्स आदि की जाँच आर0सी0डी0/आर0डब्ल्यू0डी0 के प्रयोगषाला से कराया जाना निदेषित है। पेयजल योजना में प्रयुक्त हो रहे सामग्री की जाँच पी0एच0इ0डी0 के लेबोरेट्री में कराई जाये, ऐसा निर्देश है तथा इसके लिए मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निष्चय योजना एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण गली-नाली पक्कीकरण निष्चय योजना का सैंपल इकट्ठा कर त्ब्क्ध्त्ॅक् और च्भ्म्क् के लेबोरेट्री में भेजने की व्यवस्था कराए जाने तथा प्राप्त जाँच रिपोर्ट के आधार पर अनुवर्ती कार्रवाई सुनिष्चित किए जाने का निर्देश है।

Share
Translate »