म्यांमार से अपनी जान बचाकर बांग्लादेश भाग रहे रोहिंग्या मुसलमानों की एक नाव दुर्घटना 100 लोग मरे

TelegramWhatsAppTwitterFacebookGoogle Bookmarks

म्यांमार से अपनी जान बचाकर बांग्लादेश की ओर आ रहे रोहिंग्या मुसलमानों की एक नाव दुर्घटना का शिकार हो गई, जिसके कारण बच्चों सहित 12 लोगों की जान चली गई है।

बांग्लादेश पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया है कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार के बाद उस देश को छोड़कर भागने वालों की संख्या 5 लाख पार कर चुकी है। पुलिस का कहना है कि नाव दुर्घटना में मरने वाले लोग भी म्यांमार से भाग कर बांग्लादेश में शरण लेने वाले पीड़ित रोहिंग्या मुस्लिम ही थे।

प्राप्त समाचारों के अनुसार बांग्लादेश के सीमा सुरक्षा बल के कमांडर कर्नल रफ़ीक़ुल इस्लाम ने कहा है कि यह नाव दक्षिण बांग्लादेश के शाह पेरिर के पास पलटने से डूब गई। उन्होंने कहा कि 12 शवों को पानी से निकाला जा चुका है जबकि 8 लोगों को ज़िन्दा बचाया गया है और अभी भी कई लोग लापाता है। कर्नल रफ़ीक़ुल इस्लाम ने बताया कि डूबने वालों में 3 महिलाएं और 2 बच्चे भी शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले 28 सितम्बर को रोहिंग्या शरणार्थियों को म्यांमार से बांग्लादेश की ओर ला रही एक नाव हादसे का शिकार हुई थी। उस नाव में 100 लोग सवार थे जिसमें 23 लोगों की जानें चली गईं थीं। ज्ञात रहे कि म्यांमार में चरपंथी बौद्ध इस देश की सेना के साथ मिलकर रोहिंग्या मुसमलानों का जनसंहार कर रहे हैं जिसके कारण 25 अगस्त के बाद से अबतक लगभग 5 लाख पीड़ित रोहिंग्या मुसलमान म्यांमार से भागकर बांग्लादेश में प्रवेश कर चुके हैं। (RZ)

TelegramWhatsAppTwitterFacebookGoogle Bookmarks
Translate »